2019 में बिना गठबंधन सरकार बनाना होगा मुश्किल, हर दल औंधे मुह गिरने को तत्पर

January 14th, 2019 | POLITICS

2019 में बिना गठबंधन सरकार बनाना होगा मुश्किल, हर दल औंधे मुह गिरने को तत्पर

2019 लोकसभा चुनाव में किसी एक पार्टी या चेहरे को निश्चित रूप से नहीं कहा जा सकता कौन विजेता होगा. परन्तु राजनितिक पृष्ठभूमि में निरंतर हो रही उथल पुथल को देख कर कहा जा सकता है 2019 में बिना गठबंधन की सरकार बनाना मुश्किल है. जहाँ 2014 में पूर्ण बहुमत में सरकार बनाने वाली बीजेपी का साथ NDA की पार्टियों ने छोड़ दिया है वही विधानसभा चुनाव 2018 में समर्थन देने वाली सपा-बसपा कांग्रेस से किनारा कर चुके हैं. दरसल माजरा ये है की विधानसभा चुनाव 2018 में मध्य प्रदेश के विजयी रहे सपा विधायकों को मंत्री पद न मिलने पर अखिलेश यादव ने बसपा सुप्रीमो का हाथ थामा है. इतना ही नहीं इस गठबंधन को समर्थन देने RLD और RJD भी आगे आ गए हैं.

यह भी पढ़ें: लोकसभा चुनाव 2019:बसपा ने इन 38 सीटों पर जारी की उम्मीदवारों के नाम की लिस्ट

एक तरफ जहाँ सपा-बसपा का गठबंधन मज़बूत होता दिख रहा है वही दूसरी तरफ सपा में अंदर ही अंदर हलचल मची हुई है. समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आज़म ख़ान ने इस गठबंधन का विरोध करते हुए कहा है इससे अच्छा भाजपा को वोट दो. वहीँ दूसरी तरफ प्रस्पा के राष्ट्रिय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने इस गठबंधन को ठगबंधन बताया है. उन्होंने कहा ये दोनों पार्टी ने सीबीआई के डर से एक हो गए हैं. उनका कहना है इस गठबंधन से नेता जी (मुलायम सिंह यादव) जनेश्वर जी का अपमान हुआ है और ये गठबंधन कभी सफल नहीं होगा. इसके साथ ही शिवपाल यादव ने कांग्रेस से गठबंधन करने के संकेत दिए हैं बशर्ते उन्हें सम्मानजनक सीटें मिलें.आपको बता दें रविवार को कांग्रेस मुख्यालय में प्रेस वार्ता हुई जिसमे कांग्रेस के यूपी प्रभारी ग़ुलाम नबी आज़ाद ने कहा उत्तर प्रदेश में कोई भी सेक्युलर पार्टी आती है जिसका मकसद बीजेपी को हराना है तो वो उसका स्वागत करेंगे. 

राजनीती में कहा जाता है दिल्ली का रास्ता लखनऊ से हो कर निकलता है और इसका कारण है 80 लोकसभा सीटें. जो की सरकार पलटने के लिए काफी है. जहां एक तरफ सपा से अलग हो कर अपनी पार्टी बना कर अपनों के खिलाफ ही लड़ने वाले शिवपाल यादव हैं वहीँ दूसरी तरफ हर बार निर्दल लड़ने वाले राजा भैया जिन्होंने अपनी खुद की पार्टी बना ली है. इन सभी उथल-पुथल का मतलब साफ़ है सरकार किसी की भी हो मंत्रालय अपने पास होना चाहिए. 

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें और यूट्यूब पर सब्सक्राइब करें…

Subscribe

Like this News, become a Newsinvestigator Reporter with a Click and make your voice heard.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Categories

Bollywood Crime Politics Lucknow Zyaka Other