सोनिया के इस प्रस्‍ताव को अखिलेश- माया ने ही नहीं ममता ने भी ठुकराया

May 17th, 2019 | POLITICS

सोनिया के इस प्रस्‍ताव को अखिलेश- माया ने ही नहीं ममता ने भी ठुकराया

लोकसभा चुनाव नतीजे भले 23 मई को आ रहे हैं लेकिन नई सरकार के गठन की कोशिशें अभी से शुरू हो गई हैं. कांग्रेस को उम्मीद है कि नतीजों के बाद वह विपक्ष में सबसे बड़ी पार्टी बनेगी. इस मुहिम के तहत सोनिया गांधी पिछले पंद्रह दिनों से चुनावी नतीजों के गणित का हिसाब-किताब लगाने में लगी हैं. वह लगातार तमाम दलों के बड़े नेताओं और मुखिया से संपर्क में हैं.

सोनिया की तरफ से सभी गैर एनडीए के दलों को लेटर लिखकर इस बैठक में बुलाया गया है. सूत्रों के अनुसार हालांकि पहले 21 मई को इस मीटिंग की बात कही जा रही थी, लेकिन ममता बनर्जी, मायावती व अखिलेश यादव जैसे नेताओं के सुझाव पर बैठक 23 मई को रखी गई है. इस बैठक में विपक्ष की ओर से जिन्होंने अपनी मौजूदगी सुनिश्चित की है उनमें एनसीपी के शरद पवार और और डीएम के एम के स्टालिन प्रमुख हैं.

तेलुगूदेशम पार्टी के अध्यक्ष व आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू की कोशिश थी कि चुनाव परिणाम से पहले विपक्षी दल बैठक कर रणनीति तय करें. लेकिन अखिलेश यादव, मायावती और ममता बनर्जी नतीजों के बाद बैठक के पक्ष में थे. दरअसल विपक्ष को उम्‍मीद है कि इस बार किसी भी गठबंधन को बहुमत नहीं मिलेगा. ऐसे में कांग्रेस ने अपने मुख्य सहयोगी दलों, डीएमके और राष्ट्रवादी कांग्रेस को पत्र भी भेज दिया है. सहयोगी दलों को कहा गया है कि अगर वर्तमान की एनडीए सरकार बहुमत पाने में नाकाम रहती है तो वे सरकार गठन की सभावनाओं की तात्कालिक रणनीत तैयार करें.

हालांकि कर्नाटक चुनाव के समय कांग्रेस ने अपनी आगामी रणनीति तैयार की थी, जिसका उसे फायदा मिला. इन सारी चीजों को ध्यान में रखते हुए ही कांग्रेस ने इस बार बिना वक्त गंवाए नतीजे वाले दिन ही उससे निकले संकेतों के आधार पर सरकार बनाने की संभावनाओं पर मंथन करने की योजना बनाई है. कांग्रेस इस बार विपक्ष की सरकार बनने की किसी भी संभावना से चूकने के लिए तैयार नहीं है.

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें और यूट्यूब पर सब्सक्राइब करें…

Subscribe

Like this News, become a Newsinvestigator Reporter with a Click and make your voice heard.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Categories

Bollywood Crime Politics Lucknow Zyaka Other