अखिलेश यादव का कार्यक्रम रद्द होने पर इविवि में बढ़ा तनाव, लाठीचार्ज के दौरान सपा सांसद को लगी चोट

February 12th, 2019 | POLITICS

अखिलेश यादव का कार्यक्रम रद्द होने पर इविवि में बढ़ा तनाव, लाठीचार्ज के दौरान सपा सांसद को लगी चोट

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव आज सुबह प्रयागराज जाने के लिए एयरपोर्ट पर पहुंचे थे।उन्हें यहाँ से इलाहाबाद विश्विद्यालय छात्र संघ के कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए निकलना था। लेकिन उन्हें जबरन प्रशासन ने यहाँ रोक लिया और जहाज में सवार नहीं होने दिया। इलाहाबाद विश्वविद्यालय में अखिलेश यादव का कार्यक्रम रद्द होने से तनाव बढ़ता जा रहा है। कार्यक्रम रद्द होते ही विश्वविद्यालय सपा कार्यकताओं की आपात बैठक बुलाई गई। मौके हजारों की संख्या में लोग जुटे हुए हैं।

आपको बता दें कि विश्वविद्यालय परिसर में तनाव का माहौल है। इविवि में मंगलवार को शिक्षण कार्य स्थगित कर दिया गया है। पूर्व सीएम का कार्यक्रम रद्द करने के विरोध में सपा कार्यकर्ता जुलूस निकालकर बालसन जा रहे हैं। मौके पर भारी फार्स तैनात है। इस दौरान जुलूस में बदायूं सपा सांसद धर्मेंद्र यादव, फूलपुर सांसद नागेन्द्र पटले और प्रवीण निषाद भी शामिल हैं। आक्रोशित कार्यकताओं ने बालसन चौराहे पर सरकारी होर्डिंग तोड़ दिए। मौके पर पुलिस बल उन्हें रोकने की कोशिश की जा रही है।

ये भी पढ़ें :  अखिलेश बोले- सपा-बसपा गठबंधन में कांग्रेस भी है शामिल!

इस मामले में सीएम योगी ने कहा कि समाजवादी पार्टी अराजकता फैलाने के लिए जानी जाती है। अखिलेश जाते तो इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में बवाल होता। छात्र गुटों में हिंसा की आशंका के चलते भी उन्हें रोका गया है।

ये भी पढ़ें : अखिलेश यादव को हवाई अड्डे पर रोका गया, सीएम योगी बोले 'अराजकता से बाज आना चाहिए'

इविवि सपा सांसद धर्मेंद्र यादव मौके पर पहुंचकर छात्रों को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय की अव्यवस्था और धांधली के जिम्मेदार वीसी रतनलाल हांगलू के खिलाफ जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि सीएम योगी घबराए हैं क्योंकि अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष ने उन्हें बुलाया है।समाजवादी छात्रसभा और एबीवीपी के बीच सीधे टकराव को देखते हुए विश्वविद्यालय परिसर में केंद्रीय पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है।

पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने ट्वीट करते हुए कहा कि बिना किसी लिखित आदेश के मुझे एयरपोर्ट पर रोका गया। पूछने पर भी स्थिति साफ करने में अधिकारी विफल रहे। छात्र संघ कार्यक्रम में जाने से रोकना का एक मात्र मकसद युवाओं के बीच समाजवादी विचारों और आवाज को दबाना है।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें और यूट्यूब पर सब्सक्राइब करें…

Subscribe

Like this News, become a Newsinvestigator Reporter with a Click and make your voice heard.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Categories

Bollywood Crime Politics Lucknow Zyaka Other