नसीमुद्दीन सिद्दीकी पर टिप्पड़ी करने वाले वरिष्ठ कोंग्रेसी नेता संजय दीक्षित पार्टी से निष्काषित

February, 27th 2018 |POLITICS

नसीमुद्दीन सिद्दीकी पर टिप्पड़ी करने वाले कोंग्रेसी नेता संजय दीक्षित पार्टी से निष्काषित

नसीमुद्दीन सिद्दीकी के कांग्रेस में शामिल होने के बाद कांग्रेस के नेताओं में उठापटक शुरू हो गयी है। हल ही में बीएसपी के पूर्व नेता नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने दिल्ली में कांग्रेस ज्वाइन की है। जिसके बाद से उत्तर प्रदेश कांग्रेस के नेताओं में खासा रोष है। मंगलवार को यूपी कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता को पार्टी ने 6 साल के लिए निष्काषित कर दिया गया है। कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता अशोक सिंह ने बताया की संजय दीक्षित को अनुशासनहीनता के चलते पार्टी के सभी पदों से हटाते हुए 6 वर्षों के लिए पार्टी से निष्काषित कर दिया गया है। आपको बता दें की संजय दीक्षित ने नसीमुद्दीन सिद्दीकी के कांग्रेस में शामिल होने के बाद फेसबुक पर विरोध में टिप्पड़ी की थी। उन्होंने अपने इस पोस्ट में यूपी के नेताओं पर आरोप लाया था की उन्होंने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष को गुमराह किया है।

अपनी इस टिप्पड़ी में दीक्षित ने कहा था कि सिद्दकी मायावती सरकार के समय हुए सभी बड़े घोटालों में शामिल रहे और वह हमेशा मायावती के करीबी थे। राहुल गांधी जब स्वच्छ राजनीति की वकालत कर रहे हैं तब एक दागी नेता को कैसे कांग्रेस में शामिल किया जा सकता है? दीक्षित ने कहा था कि ऐसा लगता है कि स्थानीय कांग्रेस नेताओं ने सिद्दकी के साथ कोई समझौता किया है। प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता बताया कि दीक्षित को इसके पूर्व अनुशासन समिति ने उन्हें ऐसा आचरण न करने की चेतावनी भी दी है और उनसे लिखित रूप से स्पष्टीकरण मांगा गया था। इतना ही नहीं चेतावनी एवं लिखित रूप से माफी मांगने के बावजूद दीक्षित लगातार पार्टी विरोधी कार्य कर रहे थे।

बता दें कि लोकसभा के आगामी चुनाव में विपक्ष को एकजुट करने की कोशिशों की परख अगले महीने होने वाले राज्यसभा के चुनाव में होगी। राजनीतिक लिहाज से देश के सबसे महत्वपूर्ण राज्य यूपी में सपा को छोड़कर कोई भी विपक्षी दल अपने बलबूते एक भी राज्यसभा सीट जीतने की स्थिति में नहीं है। ऐसे में उनका एकजुट होना या ना होना दूरगामी संकेत देगा।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें…

Like this News, become a Newsinvestigator Reporter with a Click and make your voice heard.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Categories