महाशिवरात्रि : प्रकृति शिव का रूप है, पौधा लगाकर रोज़ एक लोटा जल चढ़ाएं

February, 14th 2018 |Other

महाशिवरात्रि : प्रकृति शिव का रूप है, पौधा लगाकर रोज़ एक लोटा जल चढ़ाएं

लखनऊ। पूरे प्रदेश में महाशिवरात्रि का पवन आयोजन धूम धाम से हो रहा है। शिव भक्तों का ताता मंदिरों के बाहर भोर से ही लगा है। राजधानी लखनऊ समेत यूपी के अलग-अलग क्षेत्रों में भगवान् शिव पर दूध और गंगा जल अर्पित कर भक्त अपनी मुरादें लेकर पहुंच रहे हैं। लेकिन गोंडा के दुखहरण नाथ मंदिर के बाहर शिव भक्तों की एक अटूट श्रद्धा दिखाई दी। महाशिवरात्रि के पावन अवसर पर शिव भक्तों ने प्रकृति को भी शिव रुपी बताते हुए भगवन शिव के भक्तों से पौधारोपण कर रोज़ एक लोटा जल उसपर चढाने की बात कही है। जो अपने आप में एक बड़ी भक्ति है। आत्मा और परमात्मा के मिलन के इस सार में प्रकृति की एक मुख्य भूमिका है। जिससे निरंतर जनमानस की नज़रें हटती जा रही हैं। प्रकृति ईश्वर की सबसे खूबसूरत रचना है। जिसकी रक्षा करना हर इंसान का कर्त्तव्य है। नेचर क्लब ने इसी मुहीम को आगे बढ़ाते हुए शिव भक्तों से प्रकृति की रक्षा की अपील की।

नेचर क्लब ने महाशिवरात्रि पर की गई इस मुहीम का न्यूज़ इन्वेस्टिगेटर समर्थन करता है। साथ ही प्रकृति की रक्षा कर भगवान् की बनायी खूबसूरत सृष्टि की रक्षा करने की हर एक से अपील करता है।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें…

Like this News, become a Newsinvestigator Reporter with a Click and make your voice heard.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Categories