आखिरी दिन इलाहबाद में झोंकी तीनो दलों ने ताकत साथ ही अतीक अहमद ने किया बड़ा ऐलान

March, 9th 2018 |POLITICS

आखिरी दिन इलाहबाद में झोंकी तीनो दलों ने ताक़त साथ ही अतीक अहमद ने किया बड़ा ऐलान

देश की निगाहें उत्तर प्रदेश की दो लोकसभा सीटों पर होने जा रहे उपचुनाव पर है। कहा जा रहा है इन दोनों सीटों पर आने वाला परिणाम 2019 में होने वाले अगले लोकसभा चुनाव के लिए बड़ा सन्देश देगा। खैर शुक्रवार को शाम में प्रचार थम चुका है। भाजपा के लिए इस सीट को जीतना बड़ी कठनाई से भरा होगा। चूँकि समाजवादी पार्टी और बसपा के तालमेल ने भविष्य के लिए बड़ा सन्देश दिया है। कांग्रेस ने भी इलाहाबाद को केंद्र मानकर 2019 चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है।

इस सीट पर 2004 में सांसद रहे अतीक अहमद के मैदान में आने के बाद मुस्लिम मतदाताओं के मतों का ध्रुवीकरण होने का खतरा भी है। इसलिए शुक्रवार को अंतिम दिन तीनों दलों के बड़े नेताओं ने इलाहबाद पहुंचकर अपनी ताक़त पूर्ण रूप से झोंक दी। इस दौरान सबने एक-दूसरे पर आरोप भी लगाए और यह संदेश देने की कोशिश की कि, जीत उनकी ही होगी।

आपको बता दें फूलपुर लोकसभा सीट के उपचुनाव के लिए प्रचार शुरू होने के बाद से भाजपा की करीब 200 सभाएं हुईं। इनमें पांच सभाएं तो सिर्फ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कीं। जबकि इस सीट के पूर्व सांसद और मौजूदा प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने करीब 100 सभाएं कीं। उपमुखयमंत्री लगातार इलाहाबाद में बने रहे, क्योंकि इस सीट पर भाजपा से अधिक केशव मौर्य की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है। भाजपा के लिए मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह, महेन्द्र नाथ पांडेय समेत कई दिग्गजों ने सभाएं और जनसंपर्क किया।

समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी नागेन्द्र पटेल के नामांकन के दिन से ही प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम लगातार इलाहाबाद में बने रहे। बसपा से तालमेल मिलने के बाद तो एसपी के नेताओं में जैसे और जान आ गयी। शुक्रवार को खुद एसपी प्रमुख व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव इस सीट पर रोड शो और जनसभा करने पहुंच गए। अखिलेश ने करीब 40 किलोमीटर लंबा रोड शो किया। इसमें जबरदस्त भीड़ भी दिखी।

अतीक ने कहा- बीजेपी झूठों की पार्टी, किसी दाल को नहीं करने देंगे मुस्लिमो की  ठेकेदारी…
देवरिया जेल से इलाहाबाद की अदालत में शुक्रवार को पेशी पर आए पूर्व सांसद और बाहुबली नेता अतीक अहमद ने कहा कि, वह जल्द ही नई पार्टी बनाएंगे। क्योंकि पैंतीस वर्ष से सभी पार्टियों ने मुस्लिमों का वोट लिया और उनकी ठेकेदारी की लेकिन दिया कुछ नहीं। मुस्लिम जन्म से ही सेक्युलर होता है। इसलिए अब वह अपने वोटों की ठेकेदारी खुद करेगा। अतीक ने बीजेपी को झूठों की पार्टी बताया और एसपी, बीएसपी से बीजेपी की मिलीभगत का आरोप भी लगाया।

अतीक ने कहा कि, बीजेपी को रोकना है इसलिए अब हमें अपने पैर पर खड़ा होना होगा। सपा, बसपा के नेता सिर्फ वादाखिलाफी करते हैं। मैं नई पार्टी खुद बनाऊंगा और फिरकापरस्त ताकतों को रोकूंगा। हालांकि पार्टी के नाम और समय पर उन्होंने कुछ नहीं कहा। खुद को बीजेपी का मोहरा कहे जाने पर भी उन्होंने ऐतराज जताया। प्रदेश में स्लाटर हाउस बंद किए जाने के मामले पर भी उन्होंने एसपी-बीएसपी पर हमला बोला और कहा कि, यह हर व्यक्ति का फंडामेंटल राइट है। लेकिन किसी दल ने इसका विरोध सड़क पर उतरकर नहीं किया।

ख़बरों से अपडेट रहने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें…

Like this News, become a Newsinvestigator Reporter with a Click and make your voice heard.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Categories